श्रीमद् भागवत कथा श्रवण साक्षात भगवान श्री कृष्णा की दिव्य वाणी है ; आचार्य

0
190

 Chhspra Desk – श्रीमद् भागवत गीता प्रवचन, आनंदचि रहस्मय, चराचारवंदित, परम पुरुषोत्तम साक्षात भगवान श्रीकृष्ण की दिव्य वाणी है. यह अनन्त रहस्यों से पूर्ण है. परम दयामय भगवान श्रीकृष्ण की कृपा से ही किसी अंश में इसका रहस्य समझ में आ सकता है. जो भक्त अपनी आस्था प्रगट करता है,उसे ब्रह्म की प्राप्ति होता है. ये उदगार वृंदावन से पधारे सरल दयालु जी महाराज ने चौथे दिन कंकरबाग कॉलोनी टेम्पो स्टैंड स्थित राजा उत्सव हॉल में प्रवचन देते कही.

दयालु जी महाराज ने कहा जिनके बार बार याद करने करने से पापो का नाश होता है,वही हरि है.
आज के झांकी में बाल कृष्ण की मन मोहक जन्मदिन दिखाई गई. आज के प्रवचन के समापन होने पर कुम्हरार के विधायक अरुण कुमार सिन्हा ने आकर भक्त माता बहनों का आयोजन हेतु बधाई दिया. समाज सेविका ममता साहू,मुकेश साह ने सक्रिय योगदान के लिए विश्वमोहन चौधरी सन्त, गोलू,कंचन ,संवाद दाता आकाश कुमार, उपेंद्र बाबू,सजनी कुमारी,किरण जायसवाल आदि को सम्मानित किया गया.
दिनाक 27 फरबरी से प्रवचन से 4 बजे से होगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here