Home E-paper छपरा में हाथी दास मठिया से करोड़ों की मूर्ति चोरी ; 100 वर्षों से अधिक का रहा है इस मठिया का इतिहास

छपरा में हाथी दास मठिया से करोड़ों की मूर्ति चोरी ; 100 वर्षों से अधिक का रहा है इस मठिया का इतिहास

by Sunil Kumar
0 comment

Chhapra Desk- छपरा शहर के भगवान बाजार थाना क्षेत्र के वार्ड एक नया बस्ती स्थित हाथी दास मठिया से अष्टधातु की मूर्ति चोरी किए जाने का मामला प्रकाश में आया है. इस घटना के बाद मंदिर समिति एवं आस-पास के गांव में हड़कंप मच गया है. वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंची भगवान बाजार थाना पुलिस ने मामले की छानबीन प्रारंभ कर दी है. हालांकि समाचार प्रेषण तक इस मामले में प्राथमिकी की प्रक्रिया चल रही थी. बताते चलें कि यह मंदिर काफी पुराना है. स्थानीय लोगों ने बताया कि यह मठिया 100 साल से भी ज्यादा पुराना है. बताया जाता है कि इस मठ के पहले पुजारी की मृत्यु के बाद इस मंदिर की देखरेख करने वाला कोई नहीं रह गया था.

जिसकी वजह से मंदिर में पूजा कई वर्षों से बंद था उस दौरान अन्य पुजारी कुछ मूर्ति लेकर चले गए थे. जबकि, एक मूर्ति मठ में बची हुई थी. लेकिन स्थानीय ग्रामीणों के सहयोग से एवं जिले के प्रबुद्ध लोगों के प्रयास से इस मंदिर के निर्माण की आस जगी और पूजा पाठ प्रारंभ किया गया.

जिसके लिए बजरंगी दास नामक एक पुजारी को रखा गया, जिन्होंने मंदिर के साफ सफाई करने के दौरान उस मूर्ति का पूजा अर्चना प्रारंभ किया. बीती रात्रि वह मूर्ति की पूजा अर्चना करने के बाद सो गए, लेकिन सुबह जब जागे तो देखा कि मंदिर से मूर्ति गायब थी. बीती रात्रि चोरों के द्वारा मंदिर से मूर्ति चुरा लेने के बाद श्रद्धालु भक्तों एवं ग्रामीणों के चेहरे पर आज काफी नाराजगी देखी गई. हालांकि समाचार प्रेषण तक चोरी गई मूर्ति के मामले को ग्रामीणों ने गंभीरता से लेते हुए भगवान थाने में प्राथमिकी दर्ज कराने की प्रक्रिया की जा रही थी.

वहीं सूचना के बाद मौके पर पहुंचे भगवान बाजार थाना अध्यक्ष मुकेश कुमार झा के द्वारा बताया गया कि फिलहाल मामले की छानबीन की जा रही है. मामला कुछ संदेहास्पद प्रतीत होता है. क्योंकि, उक्त मठ के पास काफी जमीन है और विगत दिनों उसको लेकर विवाद भी हुआ था. फिलहाल जांच जारी है.

Sunil Kumar
Author: Sunil Kumar

You may also like

Leave a Comment

Translate »